INSOMNIA: Causes And Types-अनिद्रा: कारण और प्रकार

नमस्कार दोस्तों ! आज हम एक नए Topic  INSOMNIA के बारे में बात करेंगे जो बड़ा ही रोचक ( Intresting) हैं। आजकल यह सभी के जीवन से जुड़ा हुआ हैं ।

आज हम लोग बात करेंगे अनिद्रा(INSOMNIA) के बारे में। नींद हमारी लाइफ का वह महतव्पूर्ण हिस्सा हैं। जिसके बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती हैं । अनिद्रा (INSOMNIA) नींद से ही जुड़ी हुई एक बीमारी हैं। जो समय के साथ-साथ और भी जटिल होती जाती हैं। अगर समय रहते इसका इलाज न किया जायें तो व्यक्ति की मानसिक अवस्था पर बहुत बुरा असर पड़ सकता हैं।   

INSOMNIA: Causes And Types-अनिद्रा: कारण और प्रकार

READ ALSO:- 5 Good Habits Can Change Your Life

सोना और जागना जीवन के दो पहलू के सामान होते हैं । जितना जागना जरूरी हैं, उतना ही सोना भी जरूरी हैं। सोना और जागना अपने समय के अनुसार ही ठीक लगते हैं। ज्यादा देर तक सोना और ज्यादा देर से सोना दोनों ही अवस्थाएँ स्वास्थ्य के लिये बुरी होती हैं । सोने और जागने का समय दोनों ही हमारी दिनचर्या या जीवनशैली पर निर्भर करता हैं। आजकल की भागमभाग जीवनशैली के कारण व्यक्ति ना तो Time से सो पाता हैं और ना ही Time से उठ पाता हैं।

हमारी जीवशैली के कारण अनिद्रा (INSOMNIA ) एक भयंकर बीमारी के रूप में उभर रही हैं। INSOMNIA में रोगी अच्छी नींद नहीं ले पाता हैं। जिससे उसके शरीर को पूरा आराम नहीं मिल पाता और वह चिड़चिड़ा रहने लगता हैं। रात में सोते हुए बार-बार उठना भी INSOMNIA का लक्षण हो सकता हैं । रात में पानी पिने के लिये उठना और उठने के बाद बहुत प्रयास करने पर भी नींद न आना ये भी INSOMNIA के लक्षण हो सकते हैं।

रात में नींद पूरी ना होने के कारण व्यक्ति तनावग्रस्त होने लगता हैं। जिसके कारण उसका किसी भी काम को करने में मन नहीं लगता हैं। ऐसे तनावग्रस्त रहने के कारण व्यक्ति का रोग और भी बढ़ने लगता हैं ।आजकल हर तीसरा व्यक्ति इस बीमारी से ग्रस्त होने लगा हैं। वास्तव मैं कुछ व्यक्तिओ को तो पता भी नहीं होता की वो भी इस बीमारी से ग्रस्त हैं। INSOMNIA में रोगी को नींद आने में असुविधा होती हैं जिसके कारन उसकी नींद पूरी नहीं हो पाती हैं। जिसका उसके स्वास्थय पर बहुत ही बुरा असर पड़ता हैं।अनिद्रा (INSOMNIA ) की समस्या हमारे शरीर की ऊर्जा को भी प्रभावित करती हैं।रात में नींद पूरी न हो पाने के कारण व्यक्ति सारा दिन थका-थका सा महसूस करता हैं।

अनिद्रा (INSOMNIA ) के कारण:-

तनाव/चिंता /अवसाद– भी अनिद्रा का एक मुख्य कारण हो सकते हैं I पारिवारिक या सामाजिक चिंता भी व्यक्ति के मन या दिमाग में तनाव उत्पन कर सकती हैं, जिसके कारण व्यक्ति रात में निश्चिंत होकर नहीं सो पाता जिसके कारण उसकी नींद पूरी नहीं हो पाती हैं।

बीमारी:– किसी भी बीमारी के कारण भी व्यक्ति भरपूर नींद नहीं ले पाता हैं जैसे  कैंसर,गठिया, फेफड़े की बीमारी, हृदय की बीमारी , गैस्ट्रो-ओसोफैगल रिफ्लिकक्स रोग (GERD ), अल्जाइमर और पार्किंसंस रोग जैसी गंभीर समस्याओं के कारण , साँस लेने में कठिनाई या बार-बार पेशाब करने की बीमारी भी अनिद्रा का कारण बन सकती है।

दवाइयां:– कई बिमारिओं की दवाइयां भी रात में नींद न आने का कारण बन सकती हैं। कुछ दवाईओं के दुष्प्रभाव के कारण भी नींद नहीं आ पाती हैं।

ख़राब दिनचर्या :- हमारी बेकार दिनचर्या भी अनिद्रा का कारण हो सकती हैं। रात को देर तक जागते रहना और फिर सुबह देर से जागना भी ख़राब दिनचर्या का ही हिस्सा हैं।रात को देर से सोने के कारण हमारी नींद पर बूरा असर पड़ता हैं जिससे हम अच्छी नींद नहीं ले पाते हैं।

READ ALSO:- योग से करें डायबिटीज का इलाज

इनके आलावा कुछ और भी कारण हो सकते हैं जैसे:-

हर रोज सोने का समय बदलना।

दोपहर में सोना।

सोते वक्त ज्यादा शोर- शराबा होना या कमरे में अधिक लाइट होना।

सोने के समय में मोबाइल व टीवी जैसे उपकरणों का उपयोग करना।

धूम्रपान या किसी अन्य प्रकार का नशा करना।

पूरे दिन कैफीन युक्त पदार्थों का सेवन करना।

रात के वक्त काम करना।

चिंता या तनाव।

शरीर में कोई परेशानी या स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या होना।

अनिद्रा (Insomnia) के प्रकार:- अनिद्रा दो प्रकार की होती हैं:

ACUTE INSOMNIA:– यह एक आम अनिद्रा हैं जो बहुत ही सामान्य कारणों से हो सकती हैं, जैसे कोई पारिवारिक या सामाजिक समस्या, किसी घटना की याद आना, किसी काम का दबाव या कोई अन्य समस्या हो सकती हैं। अनिद्रा का यह रूप बस कुछ दिन या हफ्ते के लिए ही होता हैं। जैसे ही समस्या दूर हुई यह INSOMNIA भी ठीक हो जाता हैं। इसलिये यह कोई चिंताजनक बीमारी नहीं हैं।

CHRONIC INSOMNIA:– अनिद्रा का यह रूप गंभीर होता हैं। क्रोनिक इंसोम्निया किसी बीमारी का लक्षण या किसी दवाई का SIDE EFFECT भी हो सकता हैं। कुछ दवाइओं का SIDEEFFECT अनिद्रा के रूप में भी होता हैं। अनिद्रा की यह समस्या महीने भर या उससे ज्यादा समय तक भी रह सकती हैं। कुछ मादक पदार्थो जैसे तम्बाकू, शराब, भांग, या कैफीन आदि का ज्यादा सेवन भी अनिद्रा के इस रूप का कारण हो सकते हैं। लंबी यात्राएँ करना भी इसका एक कारण हो सकता हैं।

अनिद्रा के लक्षण :- अब आपको बताते हैं अनिद्रा के कुछ लक्षणों के बारे में जैसे

रात को अच्छी नींद न आना।

रात को ज्यादा प्रयासों के बाद नींद आना।

दिन के वक्त नींद का आना तथा थका सा महसूस करना।

ज्यादा देर तक जागना।

रात को देर से सोना और सुबह जल्दी जाग  जाना।

धन्यवाद्

यह ARTICLE आपको कैसा लगा ? हमें जरूर बताएगा। आपके सुझावों का हमें इंतजार रहेगा । आने वाले ARTICLES की सूचना पाने के लिये हमे अभी SUBSCRIBE करें।

Visited 1 times, 1 visit(s) today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com